Thu. Aug 22nd, 2019

’37 साल की कड़ी मेहनत से 30 हजार नौकरियां दी… लेकिन अब मैं हार चुका हूं’

Fresh Samachar :-

लोकप्रिय कॉफी श्रृंखला कैफे कॉफी डे के संस्थापक, वीजी सिद्धार्थ मंगलुरु से लापता हो गए हैं और उन्हें सोमवार शाम को नेत्रावती पुल पर देखा गया, जहां वह टहलने गए थे. सिद्धार्थ कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व विदेश मंत्री एस एम कृष्णा के दामाद हैं. Cafe coffee owner suicide

लापता कारोबारी की शादी कृष्णा की पहली बेटी मालविका से हुई है और उनके दो बेटे हैं. मंगलौर के पुलिस आयुक्त संदीप पाटिल के अनुसार, सिद्धार्थ कल बेंगलुरु से निकला था और वह सकलेशपुर जा रहा था.

 

Cafe coffee owner suicide

 

समाचार एजेंसी एएनआई का एक पात्र जारी किया है. पत्र में लिखा गया है. इस पत्र में सिद्धार्थ ने लिखा है. ”37 वर्षों के बाद कड़ी मेहनत और मजबूत प्रतिबद्धता के साथ हमारी कंपनियों और उनकी सहायक कंपनियों में 30,000 नौकरियों का सृजन किया. साथ ही साथ प्रौद्योगिकी कंपनी 20,000 नौकरियां दे रही हैं

और जहां मैं शुरुआत से ही शेयरधारक हूं. मैं अपने सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद सही लाभदायक व्यवसाय मॉडल बनाने में असफल रहा. मैं कहना चाहूंगा कि मैंने इसे अपना सब कुछ दिया. मुझे उन सभी लोगों को निराश करने के लिए खेद है, जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया”.

 

पत्र में लिखा है ”मैंने लंबे समय तक लड़ाई लड़ी लेकिन आज मैंने हार मान ली. मुझपर दोस्तों का बहुत कर्ज हो चुका है. कुछ प्राइवेट इक्विटी पार्टनर्स मुझपर शेयर बेचने का दबाव बना रहे हैं. एक लेन-देन जो मैंने छह महीने पहले आंशिक रूप से एक दोस्त से उधार लेकर पूरा किया. अन्य उधारदाताओं का मुझपर जबरदस्त दबाव है.

एक पूर्व डीजी ने उनके शेयर्स को दो बार अटैच किया, जिससे माइंडट्री के साथ उनकी डील ब्लॉक हो गई और फिर कॉफी डे के शेयर्स की जगह ले ली, जबकि संशोधित रिटर्न्स उनकी ओर से फाइल किए जा चुके थे. हालांकि संशोधित रिटर्न हमारे द्वारा दायर किए गए हैं. यह बहुत अनुचित था और एक गंभीर लिक्विडिटी की कमी का कारण बना”.

 

पत्र के अनुसार ”मैं आप सभी से निवेदन करता हूं कि आप मजबूत हों और नए प्रबंधन के साथ इन व्यवसायों को जारी रखें. मैं सभी गलतियों के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार हूं. प्रत्येक वित्तीय लेनदेन मेरी जिम्मेदारी है. मेरी टीम, ऑडिटर और वरिष्ठ प्रबंधन मेरे सभी लेनदेन से पूरी तरह अनजान हैं” Cafe coffee owner suicide

सिद्धार्थ ने लिखा ”मेरा इरादा कभी किसी को धोखा देने या गुमराह करने का नहीं था. मैं एक उद्यमी के रूप में असफल रहा हूं. यह मैं ईमानदारी से कह रहा हूं. मुझे आशा है कि किसी दिन आप मुझे समझेंगे और क्षमा करेंगे’‘.

Categories 

उत्तर प्रदेश         क्राइम         खेलकूद        गैजेट           जरा हटके           देश           बड़ी खबर            बॉलीवुड            विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *